नई दिल्ली (1अगस्त): अभिनेता सलमान खान ने कहा है कि अगर वह 2-3 सालों में या भविष्य में पिता बनेंगे तो सिर्फ इसलिए क्योंकि वह चाहते हैं कि उनके माता-पिता उनका बच्चा देखें। उन्होंने कहा, ''मुझे नहीं लगता कि समय निकल रहा है... लेकिन शायद जब मैं 70 वर्ष का हो जाऊंगा और मेरे बच्चे 20 वर्ष के होंगे, तब मुझे महसूस होगा।''

श्रीनगर(1 अगस्त): लश्कर कमांडर अबु दुजाना और उसके साथी के मारे जाने के बाद घाटी में तनाव का माहौल है।घाटी से झड़प की खबरें आ रही है। बता दें जम्मू-कश्मीर के पुलवामा के काकापोरा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों के साथ मुठभेड़ में आतंकी संगठन के कश्मीर कमांडर अबु दुजाना को मार गिराया है।

- जानकारी के मुताबिक सुरक्षाबलों को इस इलाके में लश्कर के कमांडर अबु दुजाना सहित 3 आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी। बता दें कि अबु दुजाना के सिर पर लाखों रुपये का इनाम था।

-मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुरक्षाबलों ने उस घर को विस्फोटक से उड़ा दिया जिसमें आतंकियों के छिपे होने की आशंका थी। खबरों के मुताबिक सुरक्षाबलों ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए 2 आतंकियों को मार गिराया है और अभी भी तीसरे आतंकी की तलाश जारी है।

नई दिल्ली(1 अगस्त): टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने अपने दूसरे कार्यकाल में खिलाड़ियों की तैयारी के स्टाइल में थोड़ा बदलाव किया है। शास्त्री के इस नए स्टाइल की भले ही अभी शुरुआत है, लेकिन इसका तुरंत प्रभाव देखा जा सकता है। शास्त्री ने जो कुछ अहम चीजें लागू की हैं, उसमें यह बात महत्वपूर्ण है कि कैसे बल्लेबाज अब मध्यक्रम में बल्लेबाजी के लिए तुरंत तैयार रहते हैं। बल्लेबाजी क्रम से इसका कुछ लेना देना नहीं है, बल्कि मध्यक्रम में बल्लेबाजी के लिए उतरने से पहले 'वार्मिंग अप' में नयापन लाया गया है।

- गॉल में ही यह साफ हो गया जब शिखर धवन और अभिनव मुकुंद की भारतीय जोड़ी पहले टेस्ट में टीम के अन्य सदस्यों से पहले मैदान पर पहुंची। इसका मकसद यही था कि नेट पर पहुंचो और गेंद हिट करना शुरू करो क्योंकि भारत पहले बल्लेबाजी भी कर सकता है। इस मैच में कोहली ने टॉस जीता और अच्छा वार्म अप करने वाले धवन ने पहली पारी में 168 गेंद में 190 रन बनाए।

- जब तक सलामी बल्लेबाज पविलियन पहुंचे, चेतेश्वर पुजारा ने यह बदला हुआ अपना रुटीन पूरा कर लिया, जबकि विराट कोहली नेट पर थे। यह निश्चित रूप से पिछली बार से अलग तरह का प्रयोग था और टीम का इसमें स्वागत किया गया। कोच शास्त्री ने यह नई प्रक्रिया इसलिए शुरू की कि टीम को मैदान पर भी अपना नंबर एक का दर्जा दिखाना चाहिए। शास्त्री से पहले टीम इंडिया के कोच रहे अनिल कुंबले के कार्यकाल में टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1 के पायदान पर काबिज हुई थी। आज भी टीम नंबर 1 है और शास्त्री चाहते हैं कि टीम इस स्थान पर अपने आप को और मजबूत करे।

- अपने पहले दौरे की शुरुआत से पहले नवनियुक्त कोच रवि शास्त्री को टीम इंडिया के साथ समय बिताने का ज्यादा मौका नहीं मिला था। थोड़े से समय में शास्त्री ने खिलाड़ियों के साथ जो संवाद किया, खिलाड़ी उसके पक्ष में दिखाई दिए। बतौर कोच टीम के साथ हुई अपनी पहली बातचीत में शास्त्री ने कहा कि खिलाड़ियों को कुछ और सोचने से ज्यादा अपने खेल को इंजॉय करने के बारे में सोचना चाहिए। यही सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है।

नई दिल्ली(15 जुलाई): विश्व हिंदू परिषद ने अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए कहा कि घटना से पता चलता है कि सरकार कश्मीर मुद्दे से सख्ती से नहीं निपट रही है। वीएचपी ने साथ ही कहा कि सेना का मनोबल बढ़ाने के लिए जल्द ही वह एवं बजरंग दल के 10,000 से अधिक कार्यकर्ता कश्मीर के आतंकवाद प्रभावित क्षेत्रों में जमा होंगे।

- वीएचपी की कोंकण क्षेत्र इकाई के प्रमुख शंकरराव गैकर ने कहा कि चरमपंथियों एवं जेहादियों ने हमारे देश को एक युद्धक्षेत्र बना दिया है और रोजाना हमले कर रहे हैं। समय आ गया है कि देश कश्मीर में पूर्ण रूप से एक आतंकरोधी अभियान शुरू करे और कायराना हमलों में निर्दोष लोगों की जान लेने वाले जेहादियों का सफाया करे।

- उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल साफ है कि सरकार कश्मीर मुद्दे से सख्ती से नहीं निपट रही। हमारा कोई पूर्णकालिक रक्षा मंत्री नहीं है। गृह मंत्री (राजनाथ सिंह) ने हाल में कहा कि सेना को आतंकियों के सफाये के लिए खुली छूट दी गयी है। लेकिन मैं पूछता हूं कि अब तक सेना के हाथ बंधे क्यों थे?

-उन्होंने कहा कि सरकार को जम्मू-कश्मीर के पुलिस विभाग एवं भारत के सशस्त्र बलों में कश्मीरी मुसलमालों की भर्ती तत्काल रोक देनी चाहिए। अगर ऐसा नहीं किया गया तो वहां हमारे जवानों का अपमान कर रहे पथराव करने वाले लोग आने वाले सालों में सशस्त्र बलों में शामिल होकर हमारे ही देश के खिलाफ काम कर सकते हैं।

- गैकर ने कहा कि भाजपा सरकार को हिंदुत्व की ‘मूल नीति’ का पालन करना चाहिए और देश की ‘बेहतरी’ के लिए संविधान से अनुच्छेद 370 हटा देना चाहिए।

- उन्होंने कहा कि सेना के जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए जल्द ही वीएचपी और बजरंग दल के 10,000 से अधिक कार्यकर्ता कश्मीर घाटी के आतंकवाद प्रभावित क्षेत्रों में जमा होंगे।

 

 

 

नई दिल्ली (15 जुलाई): आईफा अवॉर्ड 2017' में शिरकत करने गए सलमान खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कटरीना कैफ के आगामी जन्मदिन (16 जुलाई) के लिए 'हैप्पी बर्थडे टू यू' गाना गाया। कटरीना के साथ खड़े सलमान ने कहा, "मुझे डेट याद नहीं रहती हैं। केवल एक डेट जो मुझे याद है वह है कटरीना का जन्मदिन। यह भारत का राष्ट्रीय आयोजन है।"

नई दिल्ली: धार्मिक संस्थानों द्वारा श्रद्धालुओं को खिलाए जाने वाले मुफ्त भोजन (प्रसाद) पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) नहीं वसूला जाएगा, लेकिन इसमें लगने वाली सामग्रियों जैसे चीनी, तेल, घी आदि पर जीएसटी लगेगा।वित्त मंत्रालय ने कहा, 'मीडिया में इस आश्य की खबरें चलाई जा रही हैं कि धार्मिक संस्थानों द्वारा संचालित अन्न क्षेत्रों में दिए जाने वाले मुफ्त भोजन पर जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) लगेगा। यह बात पूरी तरह से गलत है। इस तरह दिए जाने वाले मुफ्त भोजन पर कुछ भी जीएसटी नहीं देना होगा। इसके अलावा धार्मिक स्थलों जैसे मंदिरों, मस्जिदों, चर्चों, गुरुद्वारों, दरगाह में दिए जाने वाले प्रसादम पर सीजीएसटी और एसजीएसटी अथवा आईजीएसटी, जो भी लागू हो, शून्य है।

मुंबई (15 जुलाई): दीपिका पादुकोण यूं तो बॉलीवुड की नंबर वन हीरोइन हैं, उनके करोड़ों फैंस हैं लेकिन आजकल वो सोशल मीडिया पर ट्रोल भी खूब हो रही है । हाल ही में दीपिका ने अपने लेटेस्ट फोटोशूट की कुछ तस्वीरें सोशल साइट पर पोस्ट की । इस फोटोशूट में दीपिका काफी स्किनी यानी दुबली-पतली लग रही हैं। इसी बात पर कुछ लोगों ने ताना मारते हुए उन्हें बीमार बता दिया तो किसी ने उन्हें बदसूरत कह दिया। एक यूज़र ने तो दीपिका को कुछ खाने पीने की सलाह तक दे डाली और एक ने उनसे पूछ लिया कि क्या भूख लगी है खाना चाहिए। एक यूजर ने तो ये तक लिख दिया कि क्या आप मलेरिया और डेंगू की शिकार हैं।

कुछ दिन पहले भी दीपिका एक हॉट तस्वीर शेयर की थी। उस तस्वीर को भी  उऩकी जमकर खिंचाई हुई थी। दीपिका के उस तस्वीर को देख लोंगों ने उन्हें क्या-क्या ना कहा।

नई दिल्ली(15 जुलाई): उत्तर प्रदेश विधानसभा में विस्फोटक मिलने से हड़कंप मच गया। सवाल उठ रहे हैं कि क्या बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ आतंकवादियों के निशाने पर थे।यूपी विधानसभा में विस्फोटक पेंटेरीथ्रिटोल टेट्रानेरेट्रेट (पीईटीएन) मिलने के बाद साफ है कि पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के जरिए यूपी सीएम आदित्यनाथ को दी गई धमकीचेतावनी नहीं थी बल्कि इसको लेकर बेहद सतर्क होने की जरूरत है।

- जैश के ताजा संदेश में भारत का मोस्ट वांटेड आंतकी और जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर ने भारत के पीएम नरेंद्र मोदी की हालिया इजरायल यात्रा पर गुस्सा जताया है और यहूदियों और हिंदुओं (जिन्हें वो अपना पहला दुशमन मानता है) के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करने के लिए आतंकियों को ललकारा है।

-  उसी संदेश में यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ का भी जिक्र किया था। जैश-ए-मोहम्मद सरगना आतंकवादी मसूद अजहर ने कुछ समय पहले खुद एक धमकी भरा खत लिखा था और एक ऑडियो संदेश रिकॉर्ड जिसे उसके एक एसोसिएट ने रिकॉर्ड किया था जारी किया था।

- पिछले 2 हफ्तों में पीएम मोदी और यूपी सीएम योगी को दी गई ये दूसरी धमकी है। भारत की संसद पर आतंकी हमले का मास्टरमाइंड मसूद अजहर अपने धमकी संदेश में साफ कह रहा है कि अब हमले के लिए पारंपरिक तरीकों जैसे बंदूक, ग्रेनेड और गोलियों को छोड़कर नए और घरेलू तरीकों को अपनाना चाहिए।

भोपाल: एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते आपको पता होना चाहिए कि आपके टैक्स का पैसा कहां जा रहा है। लोकतंत्र हमको ये सब जानने की सुविधा भी देता है। और ऐसा ही कुछ है जो सबको जानना चाहिए। जी हां मध्य प्रदेश के सलमतपुर में लगे एक पीपल के पेड़ को जिंदा रखने के लिए शिवराज सरकार हर साल 12 लाख रुपए खर्च करती है।

- यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थल में शामिल सांची स्तूप से 5 किलोमीटर की दूरी पर लगा यह पीपल का पेड़ देश का संभवत: पहला वीवीआईपी पेड़ है।

- पेड़ की सुरक्षा के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने चार सुरक्षा कर्मियों की तैनाती भी की है जो 24 घंटों इस पेड़ की निगरानी करते हैं। इस पेड़ की सुरक्षा में लगे एक सुरक्षाकर्मी, परमेश्वर तिवारी ने बताया, 'मैं यहां '2012 से तैनात हूं। यहां कुल चार सुरक्षाकर्मी तैनात हैं। पहले इस पेड़ को देखने को काफी लोग आते थे लेकिन अब कुछ ही लोग आते हैं।

- इस पेड़ को 5 साल पहले भारत दौरे पर आईं श्रीलंका की पूर्व राष्ट्रपति महिन्द्रा राजपक्षे अपने साथ लेकर आईं थी। इस पेड़ को उन्होंने ही लगाया था।

- इस वीवीआईपी पेड़ में पानी देने के लिए सरकार ने एक अलग से पानी की टंकी बनाई है। साथ ही इस पेड़ की देखरेख के लिए कृषि विभाग से समय-समय पर एक वनस्पति-वैज्ञानिक भी आते हैं जो इस पेड़ के स्वास्थय को जांचते हैं।

- सांची स्थित भारतीय महाबोधि सोसाइटी के सदस्य भंटे चंदारतन ने बताया, '300 ईसा पूर्व पवित्र बोधि पेड़, जिसके नीचे बैठकर गौतम बुद्ध को सत्य की प्राप्ति हुई थी, की एक शाखा भारत से श्रीलंका ले जाया गया था जिसे अनुरुद्धपुरा में लगाया गया था। महिंद्रा राजपक्षे 5 साल पहले इसी पेड़ की एक शाखा अपने साथ भारत लेकर आईं जिसे उन्होंने यहां लगाया।'

- एसडीएम वरुण अवस्थी ने बताया, 'हमने पेड़ की सुरक्षा और उसे समय-समय से पानी देने के लिए चार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की है। यह पूरा पहाड़ी इलाका बौद्ध विश्वविद्यालय को आवंटित किया जा चुका है। साथ ही इस पूरे इलाके को बौद्ध-सर्किट के तौर पर विकसित किया जा रहा है।'

 

 

Page 5 of 17
Top
We use cookies to improve our website. By continuing to use this website, you are giving consent to cookies being used. More details…